कानपुर के गौरव खन्ना स्मॉल स्क्रीन के नए रोमांटिक हीरो हैं। साढ़े तीन साल में उन्होंने छह पॉपुलर धारावाहिकों में युवा रोमांटिक लड़के का रोल किया है। आजकल कलर्स के नए सीरियल ये प्यार न होगा कम में भी उनका यही अंदाज देखने को मिल रहा है। गौरव प्रसन्नता के साथ कहते हैं, दर्शकों को मेरा रोमांटिक अंदाज ज्यादा भाता है। शायद यही वजह है कि जीवनसाथी के बाद कलर्स ने एक बार फिर मुझे ये प्यार ना होगा कम में अबीर बाजपेयी के किरदार की जिम्मेदारी सौंपी। मैं स्मॉल स्क्रीन के रोमांटिक हीरो की अपनी पहचान से खुश हूं। दर्शक इस रूप में मुझे प्यार कर रहे हैं, यही मेरे लिए बड़ी बात है। मैं दर्शकों से कहूंगा कि भविष्य में भी उनका प्यार कम न हो।
सीरियल के चरित्र अबीर को गौरव अपने बहुत करीब पाते हैं। वे कहते हैं, मैंने जिंदगी के इक्कीस साल कानपुर में बिताए हैं। वहां मैंने छत पर पतंगें उड़ाई हैं, गलियों में क्रिकेट खेला है, ठंड में स्वेटर और मफलर डालकर घूमा हूं। इसमें भी मुझे यही सब करना पड़ रहा है। सीरियल के सेट पर मुझे ऐसा लगता है कि मैं अपने घर में ही हूं। सीरियल की कहानी लखनऊ बेस्ड है। अबीर ब्राह्मण फैमिली से है और लहर माथुर कायस्थ है। दोनों की प्रेम कहानी पर आधारित है यह सीरियल। गौरव जोर देकर कहते हैं, इसमें जाति-भेद को नहीं दिखाया गया है। यह दो अलग बिरादरी के लोगों की सोच, खान-पान, रहन-सहन की भिन्नता पर है। इसमें दिखाया गया है कि ये सारी बातें दो सच्चे प्यार करने वालों के बीच रुकावट नहीं बनतीं।
गौरव का मानना है कि सिंप्लीसिटी इस सीरियल की खासियत है। वे आगे कहते हैं, सीरियल के माहौल और किरदारों से दर्शक निकटता महसूस करेंगे। लहर का किरदार निभा रहीं यामि गौतम के बारे में गौरव कहते हैं कि वे नई हैं, लेकिन उनका काम देखकर कोई ऐसा नहीं मानेगा। उनके साथ मेरी केमिस्ट्री लोगों को पसंद आ रही है। लोग लहर और अबीर को अभी से पसंद करने लगे हैं।
स्मॉल स्क्रीन के रोमांटिक हीरो गौरव निजी जीवन में भी बेहद रोमांटिक हैं। वे कहते हैं, मैं रोमांटिक तो बहुत हूं, इसमें शक नहीं है, लेकिन यदि आप सोच रहे हैं कि अबीर की तरह मेरी लाइफ में भी कोई लहर है, जिसके पीछे मैं स्कूटर लेकर भागता हूं, ऐसा नहीं है। अभी तक मुझे ऐसा कोई मिला नहीं है। सच कहूं, तो रोमांस के लिए मेरे पास समय ही नहीं है। मैं अपने काम से रोमांस करता हूं। आगे गौरव कहते हैं, अभी ऐसा कुछ भी नहीं है, लेकिन उम्मीद है, एक दिन मुझे भी मेरी लहर मिल जाएगी, उसका इंतजार है।